किसान सम्मान निधि के तहत 30 नवम्बर तक आधार आधारित नाम का मिलान करवाना होगा

जालोर। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजनान्तर्गत आधार आधारित नाम का मिलान 30 नवम्बर के पूर्व अनिवार्य रूप से करवाना होगा ताकि तृतीय किश्त का भुगतान कृषक को उनके बैंक खाते में सीधे ही हो सके। जिला कलक्टर महेन्द्र सोनी ने बताया कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम किसान) योजनान्तर्गत आवेदन करने वाले कृषकों को भारत सरकार द्वारा देय तृतीय किश्त का भुगतान करने के लिए आधार आधारित नाम के मिलान में 30 नवम्बर तक शिथिलता प्रदान की है लेकिन इसकी अनिवार्यता 3 दिसम्बर से की गई है। इस सम्बन्ध में रजिस्ट्रार सहाकारी समितियाॅ राजस्थान सरकार जयपुर से प्राप्त निर्देशानुसार आधार आधारित नाम का मिलान पीएम किसान पोर्टल पर दर्ज नाम से कराने के लिए इस योजना का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाकर अधिक से अधिक कृषकों को लाभाविन्त करने एवं ब्लांक व ग्राम स्तर पर शिविर आयोजित कर आधार कार्ड में अंकित नाम अनुरूप पीएम किसान पोर्टल पर कृषक का नाम दर्ज ३० नवम्बर, २०१९ से पूर्व करवाने के लिए सभी तहसीलदारों एवं विकास अधिकारियों को निर्देश दियें गये है।
उन्होनें बताया कि भारत सरकार की इस महत्वपूर्ण योजना के सफल क्रियान्वयन के लिए प्रधान मंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम किसान) योजनान्तर्गत आवेदन करने वाले समस्त कृषकों से आग्रह है कि वक्त आवेदन आवेदित के नाम का मिलान अपने आधार आधारित नाम से 30 नवम्बर से पूर्व करवाने के लिए सम्बन्धित क्षेत्र के पटवारी, भू.अभिलेख निरीक्षक, तहसीलदार, ग्राम विकास अधिकारी व विकास अधिकारी से अतिशीघ्र ही सम्पक करें। साथ ही बैंक आई.एफ.सी. कोड व बैंक खाता नम्बर का मिलान अपने नजदीकी ई-मित्र पर जाकर करायें तथा भामाशाह कार्ड से भी नाम सही करावें ताकि आगामी किश्त का भुगतान हो सकें।