सांसद पटेल ने लोकसभा में उठाया आदर्श क्रेडिट कॉ-ऑपरेटिव सोसायटी का मुद्दा, आदर्श सोसायटी में जमा निवेशको की पूंजी वापस दिलवाई जायें : सांसद पटेल


सांचौर। जालोर-सिरोही लोकसभा सांसद देवजी पटेल ने 17 वीं लोकसभा के द्वितिय सत्र के दौरान आदर्श क्रेडिट को-ऑपरेटीव सोसायटी में गरीब एवं किसान निवेशको की जमा पुंजी संस्था से संबंधित व्यक्तियों की सम्पती जब्त कर वापस दिलवाने का मुद्दा उठाया। जालोर सिरोही सांसद देवजी पटेल ने बताया कि मेरे संसदीय क्षेत्र सहित देशभर के गरीब किसान को लाभकारी योजनाओ का झासा देकर आदर्श क्रेडिट को-ऑपरेटीव सोसायटी नाम की संस्था क्रेडिट सोसायटी में धन जमा करवा रही थी। परिपक्व होने पर राशि चुकाने के बजाय हाथ खडे कर दिये है। ऐसे मे आदर्श क्रेडिट को-ऑपरेटीव सोसायटी मे लोगो की करोडो की धनराशि डूब गई है। यह राशि कभी मिलेेगी भी या नही इसमें संशय बना हुआ है एक मोटे आंकलन के मुताबित लोगो द्वारा लगभग 14 हजार करोड रूपये का निवेश किया गया हैं। ऐसे में हाथ खडे किए जाने पर जमा धन भी सोसायटी मे ही फंस गया हैं। उन्होंने बताया कि क्षेत्र के गरीब, दैनिक मंजदूर, ठेले वाले, रिक्षा वाले, फेरी वाले, नरेगा मजदूर, छोटे किसान, छोटे व्यापारियों, रिटायर्ड कर्मचारी ने अपनी मेहनत की गाढी कमाई यह सोच कर आदर्श को-ऑपरेटीव सोसायटी में निवेश किया था कि कुछ साल बाद यह पैसा दुगुना होगा जिससे में अपना घर बनाऊंगा, अपनी बेटी की शादी करूंगा, बच्चो की पढाई एवं इसी धन से बुढापे में आराम से जीवन यापन करूगा। परन्तु आदर्ष को-ऑपरेटीव सोसायटी ने उन सब अरमानो पर पानी फेरते हुए राजस्थान में करीब 8 हजार करोड रूपये की निवेशित रकम अपनी शैल कंपनी में निवेश कर उक्त गरीबों को ठेगा दिखा दिया है। आज सॉसायटी की सभी शाखाए बंद कर दी गई है निवेशक जब अपना निवेशित धन आपस लेने जाते है तब शाखाओं पर ताला लगा नजर आता हैं।
सांसद पटेल ने बताया कि इस घोटाले में लिप्त उनके मालिको को गिरफ्तार किया गया है परन्तु उन्होंने आदर्श को-ऑपरेटीव सोसायटी में जमा धन मे से ज्यादातर धन अपने रिश्तेदारो को दिया है इसलिए उनको भी गिरफ्तार किया जाये तथा जहा भी उन्होने पुंजी निवेश की है उन संपतियो को जब्त कर गरीबो का पैसा वसुला जाये। सांसद पटेल ने बताया कि यह पैसा गरीब मजदुर एवं किसान का पैसा है जिन्होने अपना पेट काट यह पैसा जमा करवाया आज स्थति यह है कि उनके खाना-पानी के भी लाले पड़ रहे है। इसलिए जिस-जिस ने निवेशको का धन लिया उन सभी को गिरफ्तार करना चाहिए क्योकि प्रदेश की राज्य सरकार कोई कठोर कार्यवाही नही कर रही है, वर्तमान राज्य सरकार लोकसभा चुनाव में आरोपियों को बचाने का प्रयास कर रही थी। सांसद पटेल ने केन्द्र सरकार से पुरजोर मांग करते हुए कहा की केन्द्र सरकार इस पर कठोर से कठोर कार्यवाही कर निवेशको की जमा पुंजी वापस दिलवाये।