अधिकारी सम्पर्क समाधान शिविर के मामलों का शीघ्र ही निपटारा करें : कलक्टर सोनी


जिला स्तरीय सम्पर्क समाधान शिविर में जिला कलक्टर ने सुनी परिवेदनाएँ
जालोर। जिला कलक्टर महेन्द्र सोनी ने गुरूवार को भारत निर्माण राजीव गांधी सेवा केन्द्र में जिला स्तरीय सम्पर्क समाधान शिविर में आमजन की परिवेदनाओं को व्यक्तिशः सुना तथा सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे सम्पर्क समाधान के तहत प्रस्तुत होने वाले मामलों में त्वरित गति से मामलों का निपटारा कर परिवादियों का राहत प्रदान करें। जिला स्तरीय भारत निर्माण राजीव गांधी सेवा केन्द्र में गुरूवार को जिला कलक्टर महेन्द्र सोनी के समक्ष आयोजित शिविर में 23 व्यक्तियों ने अपनी परिवेदनाओं को रखा जिनमें मौके पर उपस्थित अधिकारियों व पंचायत समितियों के सेवा केन्द्रों से संबंधित अधिकारियों से सीधे संवाद करते हुए। उन्हांने कहा कि सम्पर्क समाधान शिविर में प्रस्तुत होने वाले मामलों में किसी भी स्तर पर विलम्ब नहीं करें तथा जरूरतमंद व्यक्ति की समस्याओं का समाधान कर उन्हें राहत प्रदान करें। उन्होंने आहोर के तहसीलदार को निर्देश्ति किया कि सम्पर्क समाधान में सामान्यत आहोर तहसील क्षेत्र के सर्वाधिक अतिक्रमण हटाने से सम्बन्धित मामले आ रहे हैं इसलिए वे पूरे तहसील क्षेत्र में विशेष अभियान चलाकर राजकीय भूमियों पर हुए अतिक्रमणों को हटायें। शिविर में राजस्व, नगरीय निकाय, कॉपरेटिव बैंक, विद्युत, पुलिस, वन विभाग, रसद, शिक्षा, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग एवं ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज विभाग आदि से सम्बन्धित 23 व्यक्तियों ने अपनी परिवदेनाएँ प्रस्तुत की। वही जनसुनवाई में जिला स्तरीय सतर्कता समिति की भी बैठक सम्पन्न हुई जिसमें दर्ज 7 मामलों की समीक्षा के उपरान्त 2 प्रकरणों का निराकरण किया गया। शिविर में अतिरिक्त जिला कलक्टर छगनलाल गोयल, मुख्य कार्यकारी अधिकारी अशोक कुमार, डिस्कॉम के अधीक्षण अभियन्ता सी.एस. मीना, अधिशाषी अभियन्ता हेमन्त संकलेचा, जलदाय विभाग के अधिशाषी अभियन्ता आशीष द्विवेदी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. गजेन्द्रसिंह देवल, मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी अशोक कुमार तथा जिला परिवहन अधिकारी प्रेमराज खन्ना सहित विभिन्न जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।